Udaan News24

Latest Online Breaking News

विधायक पर हमले के बाद पंजाब में गरमाई सियासत, राज्यपाल से मिल भाजपा ने की कैप्टन सरकार को भंग करने की मांग

 28.3.2021। हैपी जिदंल। उड़ान न्यूज़24।

चंडीगढ़ । मलोट में अबोहर के भाजपा विधायक अरुण नारंग पर हुए जानलेवा हमले के बाद से पंजाब भाजपा में उबाल है। भाजपाई राज्यभर में प्रदर्शन कर रहे हैं। भाजपा नेताओं ने रविवार को राज्यपाल वीपी सिंह बदनौर से भी मुलाकात की और पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार को भंग करने के लिए राष्ट्रपति से सिफारिश करने की मांग की।

भाजपा के प्रदेश प्रधान अश्वनी शर्मा ने कहा है कि पंजाब में हिंदू-सिख की राजनीति करने की कोशिश की जा रही है। जिन लोगों को पंजाब में हिंदू-सिख एकता रास नहीं आ रही है वह इसमें दरार पैदा करना चाहते हैं। भाजपा प्रधान ने कहा कि कांग्रेस पंजाब में भाजपा की आवाज दबाने की कोशिश कर रही है, लेकिन भाजपा की आवाज को नहीं दबाया जा सकता। भाजपा नेताओं ने चंडीगढ़ स्थित मुख्यमंत्री आवास के बाहर नारेबाजी भी की और कैप्टन सत्ता छोड़ो के नारे लगाए।

शर्मा ने कहा कि एक तरफ तो मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह भाजपा विधायक अरुण नारंग पर हुए हमले की निंदा करते हैं और कड़ी कार्रवाई करने की बात कहते हैं, जबकि दूसरी तरफ वह गुंडा तत्वों और पंजाब का माहौल खराब करने वाले लोगों को समर्थन भी देते हैं। इससे पता चलता है कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की नीयत में खोट है। अश्विनी शर्मा ने कहा कि निर्वस्त्र बीजेपी के विधायक को नहीं बल्कि पंजाब विधानसभा को किया गया है। अश्वनी शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह लोकतंत्र को डंडे और पत्थरों से चलाना चाहते हैं, लकिन भाजपा अंतिम दम तक लड़ाई लड़ेगी।  पंजाब भाजपा अध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने कहा कि भाजपा को कांग्रेस से इंसाफ की उम्मीद नहीं है, क्योंकि पंजाब की कानून व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है। अश्वनी शर्मा ने कहा कि अरुण नारंग पंजाब पुलिस के एसपी के कहने पर दुकान से बाहर आए थे। पुलिस की उपस्थिति में ही उन पर हमला हुआ और उन्हेंं निर्वस्त्र किया गया।

Attachments area

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

error: Content is protected !!