Udaan News24

Latest Online Breaking News

कुंवर विजय प्रताप को गोल्ड मेडल से किया सम्मानित……

30.4.2021, धरमवीर गिल, उदय न्यूज 24

पूर्व आईजी कुंवर विजय प्रताप को हरियाणा गुरूद्वरा प्रबन्धक कमेटी के मुख्य बलजीत सिंह दादूवाल ने किया सम्मानित।
कुंवर विजय प्रताप को सेवा सम्मान के गोल्ड मेडल से किया सम्मानित ।
सिख जत्थेबंदियों के मुताबिक एस आई टी में रहते हुए कुंवर विजय प्रताप ने अपनी जिमेवारी निभाई ।
अमृतसर: एस आई टी के पूर्व मैम्बर कुंवर विजय प्रताप को आज सिख जत्थेबंदियों ने सेवा सम्मान के गोल्ड मेडल से सन्मानित किया । इस मौके एसजीपीसी के इनफार्मेशन ऑफिस के बाहर कुछ सिख जत्थेबंदियों ने कुंवर विजय प्रताप के सन्मान का विरोध भी किया । जिससे माहौल तनावपूर्व बन गया । पुलिस ने इस मौके पुख्ता प्रबंध किए हुए थे।
इस मौके  दादूवाल का कहना है कि कुंवर विजय प्रताप ने एस आई टी में रहते हुए उसकी रिपोर्ट तयार की और उन्होने कोई पक्षपात नही किया । उन्होंने इस मे जो जो दोषी थे , उनका नाम सामने लाये । लेकिन उनकी रिपोर्ट को गलत साबित किया गया जिसके बाद कुंवर विजय प्रताप ने इस्तीफा दिया । उन्होंने कहा कि वह पंजाब के मुख्यमंत्री का विरोध करेंगे ताकि कोटकपूरा के आरोपियों  को सजा मिल सके । उन्होंने कहा कि इस मामले में बादल और कांग्रेस इकट्ठे है , और पंजाब के मुख्यमंत्री को इंसाफ देना पड़ेगा । उन्होंने  कहा कि बेअदबी को लेकर ही कैप्टेन ने चुनावो से पहले वादा किया था जो आज तक पूरा नही किया।
इस मौके कुंवर विजय प्रताप ने कहा कि उन्होंने खुशी है कि आज उनका सम्मान किया जा रहा है । उन्होंने कहा कि सचखण्ड श्री हरिमंदिर साहिब पहुंचे है उन्होंने कहा कि श्री गुरु ग्रंथ साहिब की सेवा करते हुए उनकी नोेेैकरी गयी । जब उन्होंने जांच शुरू की थी उस समय उन्हें पता था कि उनकी नोैकरी जा सकती है उनका कत्ल भी किया जा सकता है । वह बहुत पावर फुल लोग है । लेकिन जो संविधान के रखवाले है उन्हें इंसाफ करना चाहिए था उन्होने कहा कि जो हमारा कोलोनियल कानून है उसमें इंसाफ नही हो सकता और जो दोबारा इन्वेस्टीगेशन की बात कर रहे है वो नही हो सकती । सिर्फ लोगो को मूर्ख बनाया जा रहा है।
इस मौके कुंवर विज्य प्रताप का कुछ सिख जत्थेबंदियों दुवारा विरोध किया गया और काली झंडिया पकड़ कर नारे लगाए गए।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

error: Content is protected !!